National Issues, ,

ऑपरेशन समुद्र सेतु: भारतीय नौसेना ने शुरू किया ऑपरेशन समुद्र सेतु

operation samudra setu
operation samudra setu | Image By Google

ऑपरेशन समुद्र सेतु: सरकार के निर्देशानुसार भारतीय नौसेना ने मालदीव में फंसे भारतीय को वापस लाने के लिए ऑपरेशन समुद्र सेतु शुरू किया है।

वहा पर एयरलाइन्स का संचालन बंद होने के कारण विदेशी भूमि में फंसे हुए है।

सभी भारतीय को सुरक्षित निकालने की ज़िम्मेदारी भारत सरकार ने जल सेना को दी है।

मालदीव से सभी भारतीय को बहार निकालने के लिए जल सेना ऑपरेशन समुद्र सेतु चलाया है।



मुख्य बिन्दु: ऑपरेशन समुद्र सेतु

भारत सरकार द्वारा जल जहाज पहले माल मालदीव के बन्दरगाह भेजा रहा है।

इस जहाज से पहली यात्री के दौरान 1000 व्यक्तियों को लाने की योजना है।

मालदीव से निकाले जाने वाले भारतीयों की एक लिस्ट मालदीव सरकार द्वारा तैयार की जा रही है।

भारतीय नौसेना का जहाज आईएनएस जलाश्व 8 मई 2020 को मालदीव पहुंचेगा।

यह जहाज 17,521 टन को विस्थापित करने में सक्षम है। आईएनएस मगर 10 मई 2020 को मालदीव पहुंच जायेगा।

यह नौसेना का एक युद्ध जहाज है। जो 5,750 टन भार को विस्थापित करने में सक्षम है।

सरकार ने कहा कि इन सभी मालदीव से निकासी के बाद इन लोगों को कोच्चि में संगरोध में रखा जायेगा।

और कोरोना संक्रामण के चलते इन सभी लोगों का पहले स्वास्थ्य परिक्षण किया जायेगा।



आईएनएस जलाश्व

भारतीय आईएनएस जलाश्व को पहले यूएसएस टेंटन के नाम से जाना जाता था।

यूएसएस टेंटन को 2006 में अमेरिका से खरीदा गया था।

सरकार ने खरीदने के बाद जहाज का नाम आईएनएस जलाश्व रखा गया था।

संस्कृत में जलाशवा का अर्थ है। दरियाई घोड़ा और आईएनएस एक उभ्याचर युद्ध पोत है।



एम्फिबियस असाल्ट शिप्स का महत्व

सबसे पहले 2018 में भारत सरकार 20,000 करोड़ रूपये की परियोजना शुरू की।

इस परियोजना के तहत भारत में चार उभयचर जहाज बनाये जाएंगे।

ऐसे ही आर्टिक्ल को पढ़ने के लिए आप हमारे Facebook और Twitter से भी जुड़ सकते हैं। आर्टिक्ल सम्बंधित किसी भी त्रुटि के लिए Contact Us पेज में संपर्क।

Share Now

Author Since: Jan 05, 2019

Joblour is a Platform where you can get Govt. Jobs Notifications, result Notifications, Admit Card Notifications as well as Content for your preparation.

Related Post